हस्तरेखा से जान सकते हैं, कि आपकी सफलता कहाँ छिपी है ।।

हस्तरेखा से जान सकते हैं, कि आपकी सफलता कहाँ छिपी है ।। Hastrekha Se Safalata Ka Samay jane.

हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,

मित्रों, सफलता एक ऐसा शब्द है, जिसे सुनते ही व्यक्ति की बांछे खिल उठती हैं । सफलता को आप किसी पैमाने के जरिए नहीं माप सकते । लेकिन सफलता किस रास्ते पर है इसे ज्योतिषशास्त्र के जरिए अवश्य जाना जा सकता है ।।

आप अपनी सफलता की सीढ़ियों को अपने हाथों की लकीरों से जान सकते हैं । जैसा की आप जानते हैं, कि हाथों की इन लकीरों को आमतौर पर हस्तरेखा के नाम से जाना जाता है ।।

इस हस्त रेखा शास्त्र के द्वारा आपको आपके रोजगार चयन में सहायता मिलती है । लेकिन यह जानने के लिए हस्तरेखा शास्त्र को जानना आवश्यक है । फिर आप इस बात को जान सकते हैं, कि आप किस क्षेत्र में सफल हो सकते हैं ।।

तो आइये जानते हैं, इसके लिए आप अपनी उँगलियों को देखें । यदि अंगुलियों के पहले पोरे सबल एवं लम्बे हैं तो आपमें सीखने की ललक अच्छी है । यानी आप उच्च शिक्षा ग्रहण करने में सफल होंगे ।।

यदि अगुंलियों के दूसरे पोरे लम्बे और सबल हों तो आप के अंदर देखकर सीखने की क्षमता अधिक होंगी । यदि तीसरा पोरा ज्यादा सबल है तो आपका उत्पादन, व्यापार या व्यवसाय के क्षेत्र में जाना ज्यादा उचित होगा ।।

सर्वप्रथम यह तय कर लेना जरूरी है, कि भाग्य किस ग्रह द्वारा संचालित है । अर्थात हाथ में कौन सा पर्वत क्षेत्र ज्यादा प्रभावी है । उसके स्वामी द्वारा ही उसका जीवन ज्यादा प्रभावित होता है ।।

जैसे इस विषय को आप इस प्रकार जान सकते हैं । सूर्य पर्वत से कला, साहित्य, प्रशासन संबंधी । चन्द्र पर्वत से कला, काव्य, जलीय व्यवसाय, तैराक एवं तरल वस्तुएं । मंगल पर्वत से साहसी कार्य, अन्वेषण खोज, खिलाड़ी, पर्वतारोहण, खतरों से भरे कार्य, सैनिक, पुलिस, जंगल या वन क्षेत्र इत्यादि ।।

बुध पर्वत से इनडोर गेम्स, बोलने से जुड़े व्यवसाय, मार्केटिंग, विज्ञान, व्यापार, वकालत, चिकित्सा क्षेत्र तथा बैंक आदि । बृहस्पति पर्वत से राजनीति, सेना या सामाजिक संगठनों में उच्च पद, अध्ययन-अध्यापन, सलाहकार, कर/आर्थिक विभाग, कानून एवं धर्म क्षेत्र ।।

शुक्र पर्वत से कला, संगीत, चित्रकारी या गंधर्व कलाएं, नाटक इत्यादि, महिला विभाग, कम्प्यूटर, हस्तशिल्प एवं पयर्टन आदि । शनि पर्वत से तंत्र, धर्म, जासूसी, रसायन, भौतिकी, गणित, मशीनरी, कृषि, पशुपालन, तेल एवं अनगढ़ कलाकृतियां इत्यादि ।।

======================

ज्योतिष के सभी पहलू पर विस्तृत समझाकर बताया गया बहुत सा हमारा विडियो हमारे  YouTube के चैनल पर देखें । इस लिंक पर क्लिक करके हमारे सभी विडियोज को देख सकते हैं – Click Here & Watch My YouTube Channel.

इस तरह की अन्य बहुत सारी जानकारियों, ज्योतिष के बहुत से लेख, टिप्स & ट्रिक्स पढने के लिये हमारे ब्लॉग एवं वेबसाइट पर जायें तथा हमारे फेसबुक पेज को अवश्य लाइक करें, प्लीज – My facebook Page.

वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।

किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।

संपर्क करें:- बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा ।।

WhatsAap & Call: +91 – 8690 522 111.
E-Mail :: astroclassess@gmail.com

Balaji Jyotish Kendra, Silvassa

कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने तथा वास्तु विजिटिंग के लिये अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें । पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं । ज्योतिष पढ़ने के लिये संपर्क करें - बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!