दुर्गा माता की आरती ।।

दुर्गा माता की आरती ।। Durga Mata Aarti in Hindi.
 
 
जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी तुम को निस दिन
ध्यावत मैयाजी को निस दिन ध्यावत हरि ब्रह्मा शिवजी ।।जय अम्बे गौरी ।।
 
माँग सिन्दूर विराजत टीको मृग मद को । मैया टीको मृगमद
को उज्ज्वल से दो नैना चन्द्रवदन नीको ।। जय अम्बे गौरी ।।
 
कनक समान कलेवर रक्ताम्बर साजे । मैया रक्ताम्बर साजे
रक्त पुष्प गले माला कण्ठ हार साजे ।। जय अम्बे गौरी ।।
 
केहरि वाहन राजत खड्ग खप्पर धारी । मैया खड्ग खप्पर धारी
सुर नर मुनि जन सेवत तिनके दुख हारी ।। जय अम्बे गौरी ।।
 
कानन कुण्डल शोभित नासाग्रे मोती । मैया नासाग्रे मोती
कोटिक चन्द्र दिवाकर सम राजत ज्योति ।। जय अम्बे गौरी ।।
 
शम्भु निशम्भु बिदारे महिषासुर घाती । मैया महिषासुर घाती
धूम्र विलोचन नैना निशदिन मदमाती ।। जय अम्बे गौरी ।।
 
चण्ड मुण्ड शोणित बीज हरे । मैया शोणित बीज हरे
मधु कैटभ दोउ मारे सुर भयहीन करे ।। जय अम्बे गौरी ।।
 
ब्रह्माणी रुद्राणी तुम कमला रानी । मैया तुम कमला रानी
आगम निगम बखानी तुम शिव पटरानी ।। जय अम्बे गौरी ।।
 
चौंसठ योगिन गावत नृत्य करत भैरों । मैया नृत्य करत भैरों
बाजत ताल मृदंग और बाजत डमरू ।। जय अम्बे गौरी ।।
 
तुम हो जग की माता तुम ही हो भर्ता । मैया तुम ही हो भर्ता
भक्तन की दुख हर्ता सुख सम्पति कर्ता ।। जय अम्बे गौरी ।।
 
भुजा चार अति शोभित वर मुद्रा धारी । मैया वर मुद्रा धारी
मन वाँछित फल पावत देवता नर नारी ।। जय अम्बे गौरी ।।
 
कंचन थाल विराजत अगर कपूर बाती । मैया अगर कपूर बाती
माल केतु में राजत कोटि रतन ज्योती ।। बोलो जय अम्बे गौरी ।।
 
माँ अम्बे की आरती जो कोई नर गावे । मैया जो कोई नर गावे
कहत शिवानन्द स्वामी सुख सम्पति पावे ।। जय अम्बे गौरी ।।
 
==============================================
 
"वृषभ राशि की कुण्डली, सम्पूर्ण विवेचन, भाग-3."।।"  -  My Lalest video.

"मिथुन राशि की कुण्डली का सम्पूर्ण विवेचन, भाग-3."।।"  -  My Lalest video.


दुर्गा सप्तशती का पाठ करें -  Durga Saptashati.
 
ज्योतिष के सभी पहलू पर विस्तृत समझाकर बताया गया बहुत सा हमारा विडियो हमारे YouTube के चैनल पर देखें । इस लिंक पर क्लिक करके हमारे सभी विडियोज को देख सकते हैं -   Click Here & Watch My YouTube Video's.
 
इस तरह की अन्य बहुत सारी जानकारियों, ज्योतिष के बहुत से लेख, टिप्स & ट्रिक्स पढने के लिये हमारे ब्लॉग एवं वेबसाइट पर जायें तथा हमारे फेसबुक पेज को अवश्य लाइक करें, प्लीज  -  My facebook Page.
 
============================================
  
 
वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।

किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।
 
 
 
==============================================

संपर्क करें:- बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा ।।
 
 
 
WhatsAap & Call:   +91 - 8690 522 111.
 
E-Mail :: astroclassess@gmail.com
 
 
 
 
 

।।। नारायण नारायण ।।।

Latest Articles