व्यवसाय बाधा एवं गृह कलह से मुक्ति हेतु सरल टिप्स ।।

व्यवसाय बाधा एवं गृह कलह से मुक्ति हेतु सरल टिप्स ।। Vyavasay Badha And Grih Kalah Se Mukti hetu Tips.

हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,

मित्रों, अगर आपके ज्यादातर कार्य असफल हो रहे हैं, और अगर आप चाहते हैं, कि आपके द्वारा किये गए कार्य सफल हो लेकिन कार्य के प्रारम्भ होते ही उसमें विध्न आ जाते हैं और वह असफल हो जाते हैं ।।

इसके लिए आप प्रातःकाल कच्चा सूत लेकर सूर्य के सामने मुंह करके खड़े हो जाएं । फिर सूर्य देव को नमस्कार करके “ॐ ह्रीं घ्रणि सूर्य आदित्याय श्रीं” इस मंत्र बोलते हुए सूर्य देव को जल चढ़ाएं ।।

इसके बाद जल में रोली, चावल, गुड़ तथा लाल पुष्प मिलाकर रख लें । इसके पश्चात कच्चे सूत को सूर्य देव की तरफ करते हुए गणेशजी का स्मरण करते हुए सात गाँठ लगाएं । इसके पश्चात इस सूत को किसी कवर में रखकर अपनी कमीज की जेब में रख लें, आपके सारे बिगड़े कार्य बनाने लगेंगे ।।

मित्रों, अगर आपके व्यवसाय में तरह-तरह की बाधायें आ रही है । यदि कारोबार में हानि हो रही है अथवा ग्राहकों का आना कम हो गया हो, तो यह निश्चित है, कि किसी ने आपके कारोबार को बांध दिया है ।।

Some Efeective Tricks To Get a Child

इस बाधा से मुक्ति के लिए दुकान या कारखाने के पूजन स्थल में शुक्ल पक्ष के शुक्रवार को अमृत सिद्ध या सिद्ध योग में श्री धनदा यंत्र स्थापित करें । फिर नियमित रूप से केवल धूप देकर उनके दर्शन करें, कारोबार में लाभ होने लगेगा ।।

मित्रों, अगर चाहते हैं, कि किसी विशेष कार्य में सफलता प्राप्त हो तो उसके लिए किसी अमावस्या के दिन पीले कपड़े का त्रिकोना झंडा बना कर विष्णु भगवान के मंदिर के ऊपर लगवा दें, आपकी मनोकामना या विशेष कार्य सिद्ध हो जायेगा ।।

अगर आप किसी प्रकार के मुकदमे में फंस गए है । अगर आप चाहते हैं, कि उस प्रकार के कोर्ट-कचहरी और मुकदमे में आपको विजय प्राप्त हो । तो आप पांच गोमती चक्र जेब में रखकर कोर्ट में जायें, मुकदमे में निर्णय अवश्य ही आपके पक्ष में ही होगा ।।

मित्रों, अगर आपके घर में परिवार के सभी सदस्यों अथवा पति-पत्नी में आवश्यकता से अधिक कलह होती है । इस प्रकार के गृह कलह से अगर आप बहुत ज्यादा परेशान हो चुके हैं, तो इससे मुक्ति हेतु इस उपाय को श्रद्धा पूर्वक करें ।।

क्योंकि अगर परिवार में कलह है, तो पैसे एक वजह बहुत बड़ा होता है इस कलह का । इसके लिए दक्षिणावर्ती शंख में पांच कौड़ियां रखकर उसे चावल से भरी चांदी की कटोरी पर घर में ही स्थापित करें । यह टोटका आपको शुक्ल पक्ष के प्रथम शुक्रवार को या दीपावली की रात्रि में करें, उम्मीद से अधिक लाभ होगा ।।

मित्रों, अगर आपको क्रोध बहुत अधिक आता है । इस प्रकार का क्रोध खतरनाक भी हो जाता है । इस प्रकार के क्रोध पर नियंत्रण हेतु दक्षिणावर्ती शंख को साफ कर उसमें जल भरकर उसे पिला दें ।।

यदि परिवार में पुरुष सदस्यों के कारण आपस में तनाव रहता हो, तो पूर्णिमा के दिन कदंब वृक्ष की सात अखंड पत्तों वाली डाली लाकर घर में रखें । अगली पूर्णिमा को पुरानी डाली कदंब वृक्ष के पास छोड़ आएं और नई डाली लाकर रखें । यह क्रिया इसी तरह करते रहें, क्रोध और तनाव जल्द ही कम हो जायेगा ।।

According to Vastu Shastra direction of your main door of your house. Astro Classes, Silvassa

ज्योतिष के सभी पहलू पर विस्तृत समझाकर बताया गया बहुत सा हमारा विडियो एवं टिप्स एंड ट्रिक्स हमारे   YouTube के चैनल पर देखें । इस लिंक पर क्लिक करके हमारे सभी विडियोज को देख सकते हैं – Click Here & Watch My YouTube Video’s.

इस तरह की अन्य बहुत सारी जानकारियों, ज्योतिष के बहुत से लेख, टिप्स & ट्रिक्स पढने के लिये हमारे ब्लॉग एवं वेबसाइट पर जायें तथा हमारे फेसबुक पेज को अवश्य लाइक करें, प्लीज – My facebook Page.

वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।

किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।

संपर्क करें:- बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा ।।

WhatsAap & Call: +91 – 8690 522 111.
E-Mail :: astroclassess@gmail.com

Balaji Jyotish Kendra, Silvassa

कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने तथा वास्तु विजिटिंग के लिये अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें । पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं । ज्योतिष पढ़ने के लिये संपर्क करें - बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!